Kanya Sumangala Yojana 2022

Kanya Sumangala Yojana 2022, जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कि समाज में बहुत सी ऐसी कुरीतियां फैली हुई है जिस कारण से बेटियों के लिए नकारात्मक सोच भी रखी जा रही है और इसी वजह से समाज में भ्रूण हत्या जैसे बहुत से अपराध हो रहे हैं यह सब नतीजा समाज में फैली कुरीतियां और नकारात्मक सोच रखने वाले व्यक्तियों के कारण हो रहा है। इन्हीं सोच को सुधारने के लिए  सरकार द्वारा बहुत सी ऐसी योजनाएं आ रहे हैं जिसमें परिवार में जन्मी बेटी के लिए  पालन पोषण से लेकर विवाह तक सरकार द्वारा कुछ आर्थिक मदद की जा रही है। खासकर जो परिवार गरीब है उनके लिए इस प्रकार की योजनाएं चलाई जा रही हैं। क्योंकि कुछ गरीब परिवार ऐसे भी होते हैं जो पेट में पल रही बेटी के पालन पोषण और उनकी पढ़ाई लिखाई, शादी इत्यादि की सोच से ही यह कदम उठाने पर मजबूर हो जाते हैं। तो आज हम उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही कन्या सुमंगला योजना जो बेटियों के  पालन पोषण से लेकर उनकी शादी तक कुछ आर्थिक सहायता परिवार को प्रदान करती है जिससे उनसे बेटियों का भविष्य उज्जवल हो सके ।




Table of Contents

Kanya Sumangala Yojana 2022 | MKSY Official Website

भारत की महिलाओं और बालिकाओं की सामाजिक, धार्मिक शैक्षिक व पारिवारिक परिस्थितियां  पहले से ही से भेदभाव पूर्ण रही हैं।  इन्हीं भेदभाव वाली कुरीतियों के कारण ही समाज में भ्रूण हत्या, असमान लिंगानुपात, बाल विवाह साथ ही बेटियों के प्रति नकारात्मक सोच पनपती रहती है।  इस प्रकार की सभी कुरीतियों को दूर करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के रूप में एक नई पहल की है जिससे कि समाज में फैली इस प्रकार की नकारात्मक सोच और बालिकाओं के प्रति उत्पन्न भेदभाव को रोका जा सके और इसके साथ ही लड़कियों और महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा के साथ-साथ उन्हें उनके विकास के लिए नए अवसर मिलते रहे।

आज हम अपनी इस पोस्ट के माध्यम से आप सभी को कन्या सुमंगला योजना के बारे में सभी जानकारी देने जा रहे हैं कि इस योजना का लाभ कैसे प्राप्त कर सकते हैं और कन्या सुमंगला योजना का आवेदन कैसे करें इन सभी संबंधित जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना (mksy.up.gov.in)

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana  एक ऐसी योजना है जो उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को उनके जन्म के पश्चात उनको ₹15000 की आर्थिक सहायता 6 किस्तों में प्रदान की जाती है। यह योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आरंभ की गई है जिससे इस योजना के माध्यम से बालिकाओं को सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा प्रदान की जा रही है इतना ही नहीं इसके अलावा इस योजना के माध्यम से समाज में फैली  बेटियों के प्रति नकारात्मक सोच को सुधारा जा सके। इस योजना के तहत ऐसे गरीब परिवारों को ₹15000 की आर्थिक मदद है 6 किस्तों में की जाती है जो यह  बेटी के जन्म से लेकर उनकी पढ़ाई तक पूरी की जाती है।

mukhyamantri kanya sumangala yojana का उदेश्य

कन्या सुमंगला योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में स्वास्थ्य एवं शिक्षा की स्थिति को सुद्रढ़ करने के साथ-साथ प्रदेश में हो रही कन्या भ्रूण हत्या को भी समाप्त करना है ।  इसके साथ ही प्रदेश में समान लिंगानुपात को स्थापित करना और बाल विवाह की कुप्रथा को भी रोकना है। यदि प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के तहत नवजात कन्या के परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है तब उस स्थिति में उस बालिका का पालन पोषण भी सही से हो सकेगा और उत्तर प्रदेश में कन्या जन्म के प्रति आमजन में जो नकारात्मक सोच अभी है उस नकारात्मक सोच को सकारात्मक सोच में विकसित करके कन्याओं के उज्जवल भविष्य की आधारशिला को आगे बढ़ाना है।

मुख्यमंत्री सुमंगला योजना के तहत उत्तर प्रदेश राज्य के ऐसे परिवारों को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं और अपनी बेटियों की अच्छी परवरिश के साथ-साथ उन्हें उच्च शिक्षा भी प्रदान नहीं करा पा रहे हैं। इस योजना का उद्देश्य है कि ऐसे गरीब परिवारों की बेटियों के पालन पोषण और उन्हें अच्छी शिक्षा प्रदान करने हेतु प्रदेश सरकार द्वारा ₹15000 की आर्थिक सहायता से किस्तों में दी जाती है। ऐसे परिवारों के लिए मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2022 काफी लाभदायक सिद्ध हो रही है। राज्य के ऐसे परिवार जो इस योजना के अंतर्गत पात्र की श्रेणी में आते हैं वह अपना आवेदन ऑनलाइन के माध्यम से कर सकते हैं। इस MKSY 2022  का आवेदन इसकी ऑफिशल वेबसाइट mksy.up.gov.in पर जाकर किया जा सकता है लेकिन इस बात का भी ध्यान रहे यह आवेदन सिर्फ वही परिवार वाले कर सकते हैं जिन परिवार की वार्षिक आय ₹300000 प्रति वर्ष या उससे कम है।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2022 की श्रेणियां

जैसा कि आपने ऊपर पड़ा है Uttarpradesh Kanya Sumangala Scheme 2022 के तहत लाभार्थी परिवार को जो धनराशि दी जाती है वह 6 किस्तों में दी जाती है अभी 6 किस्त किस प्रकार से दी जाती है यह अलग-अलग श्रेणियों में बांटी गई है जिसकी जानकारी हमने नीचे  लिखी है।

श्रेणी 1 –  पहली श्रेणी  के अनुसार जिन बालिकाओं का जन्म 1 अप्रैल 2019  यह उसके बाद हुआ है उन बालिकाओं को ₹2000 की आर्थिक सहायता उस समय ही प्रदान कर दी जाती है जो की है पहली श्रेणी के अंतर्गत आती है।

श्रेणी 2-  इसके पश्चात दूसरी श्रेणी में लड़की को इस योजना के तहत ₹1000 की धनराशि प्रदान की जाती है व शर्तें लड़की का 1 वर्ष के अंदर टीकाकरण हो चुका हो और उसका जन्म 1 अप्रैल 2018 से पहले नए हुआ हो।

श्रेणी 3 –  तीसरी श्रेणी में उन बालिकाओं को सम्मिलित किया जाएगा जिन बालिकाओं का शैक्षणिक सत्र के दौरान प्रथम कक्षा में प्रवेश लिया हो । इस समय पर बालिका को ₹2000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

श्रेणी 4-  चौथी श्रेणी में उन बालिकाओं को सम्मिलित किया जाता है जो बालिका है चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान छठी कक्षा में प्रवेश लिया हो।  इस समय पर भी बालिकाओं को ₹2000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

श्रेणी 5-  पांचवीं श्रेणी के अंतर्गत उन बालिकाओं को रखा गया है जो बालिकाएं चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान नवी कक्षा में प्रवेश लिया हो और इस श्रेणी में बालिकाओं को ₹3000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

श्रेणी 6- छठी श्रेणी में कौन बालिकाओं को रखा गया है  जिन्होंने 10वीं या 12वीं कक्षा पास करके चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान किसी भी स्नातक डिग्री या कम से कम 2 वर्ष डिप्लोमा में एडमिशन लिया ह ऐसी कौन बालिकाओं को इस छठी श्रेणी में ₹5000  की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

प्रदेश में 12 लाख 68 हजार से अधिक बालिकाओं को मिला योजना का लाभ

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना को लाने का एक पहलू यह भी है की लिंग अनुपात को सुधारा जा सके इसके साथ-साथ कन्या भ्रूण हत्या को रोकने एवं बालिकाओं और महिलाओं के प्रति समाज में सकारात्मक सोच विकसित हो सके। Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana  के अंतर्गत मिलने वाली सुविधाओं के कारण प्रदेश की बालिकाएं सशक्त और आत्मनिर्भर बन रही है ।  इस योजना द्वारा अभी तक लगभग 12 लाख से अधिक कन्याओं को लाभ मिल चुका है और यह लाभ उन्हें परिवार की बालिकाओं को मिला है जिनके परिवार के अधिकतम वार्षिक आय ₹300000 या उससे कम है।  यह जानकारी उत्तर प्रदेश की राज्यपाल माननीय आनंदीबेन पटेल द्वारा प्रदान की गई है।

कन्या सुमंगला योजना पात्रता  2022 की पात्रता

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने के लिए क्या-क्या पात्रता निर्धारित किए गए हैं प्रदेश सरकार द्वारा इसकी जानकारी नीचे लिखे हुए हैं ।




  • इच्छुक लाभार्थी को कन्या सुमंगला योजना में लाभ लेने के लिए सबसे पहले उत्तर प्रदेश का निवासी होना आवश्यक है।
  • लाभार्थी परिवार की वार्षिक आय ₹300000 से अधिक न हो ।
  • परिवार में जन्मी अधिकतम दो बच्चियों को ही इस योजना का लाभ मिल सकेगा।
  • परिवार में अधिकतम 2 बच्चे होने चाहिए।
  • यदि किसी महिला को द्वितीय प्रसव से जुड़वा बच्चे पैदा होते हैं इस स्थिति में तीसरी संतान के रूप में यदि लड़की होती है तब वह परिवार उस लड़की के लिए भी इस योजना में अपना आवेदन कर सकता है। ( लेकिन यहां पर यह हमेशा ध्यान रहे  तीसरी बेटी के लिए इस योजना का लाभ तभी मिलेगा  वह तीसरी बेटी दूसरे प्रसव के दौरान ही पैदा हुई हो)
  • यदि किसी परिवार ने अनाथ बालिका को गोद लिया है तब वह परिवार भी जैविक संस्थानों तथा विधिक रूप में गोद लिए संतानों को सम्मिलित करते हुए Mukhyamantri Kanya Sumangala yojana का लाभ ले सकते हैं लेकिन इसमें भी यही शर्त रहेगी कि जो बालिका गोद ली गई है उसको मिलाकर परिवार ने दो बालिका ही होनी चाहिए)

MKSY 2022 की धनराशि किसके बैंक खाते में दी जाएगी

हम आपको यहां यह बता दें कन्या सुमंगला योजना की धनराशि PFMS के माध्यम से उसके बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।  जब तक लाभार्थी बेटी की age 18 वर्ष नहीं हो जाती है तब तक इस योजना  के लाभ की धनराशि  बेटी की माता के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है और यदि माता की मृत्यु होने की स्थिति में  यह धनराशि पिता के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।  यदि माता-पिता दोनों की मृत्यु हो जाती है उस स्थिति में इस योजना का पैसा अभिभावक के बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाएगा और जब लाभार्थी वयस्क हो जाएगी तब Mukhyamantri Sumangala yojana 2022 के लाभ की धनराशि लाभार्थी के बैंक खाते में ही ट्रांसफर कर दी जाएगी।  लेकिन यहां पर एक बात का ध्यान रखना है यदि माता-पिता की मृत्यु हो जाती है तब उस स्थिति में मृत्यु प्रमाण पत्र का साक्ष्य भी पेश करना होगा।

Mukhyamantri Sumangala yojana बजट

यदि हम बात करें Mukhyamantri Sumangala Yojana budget की वित्तीय वर्ष 2019-20 में इस योजना का संचालन करने के लिए 12 सौ करोड़ रुपए धनराशि के बजट की व्यवस्था की गई थी और अधिक बात करें तो इस बजट में से मात्र 3% हिस्सा ही प्रशासनिक पिया के लिए आरक्षित किया गया था जो यह 3% प्रशासनिक व के अंतर्गत अबस्थापना, मानव संसाधन,POL, स्टेशनरी, प्रचार प्रसार, प्रशिक्षण इत्यादि के लिए दिए किया जाएगा।

MKSY 2022 में आवेदन mksy.up.gov.in registration

प्राथमिक रूप से मुख्यमंत्री सुमंगला योजना  का आवेदन मुख्य रूप से ऑनलाइन माध्यम से ही किया जाएगा लेकिन कुछ ऐसे आवेदक भी होते हैं जो अपना यह आवेदन ऑनलाइन नहीं करा सकते तब उस स्थिति में उन आवेदकों के लिए वह  इस योजना का आवेदन offline माध्यम से खंड विकास अधिकारी/ उप जिलाधिकारी/ जिला परिवीक्षा अधिकारी या उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारी के कार्यालय में जमा कर सकते हैं। लेकिन यदि कोई आवेदन अपना offline आवेदन करना चाहता है तब उसके लिए उसको एक आवेदन पत्र भी भरना होगा जो हमने नीचे लिंक में दिया हुआ है आप यहां से क्लिक करके इस आवेदन पत्र को Download कर सकते हैं।

Mukhyamantri Sumangala yojana आवेदन प्रक्रिया

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के आवेदन प्रक्रिया बहुत ही सरल है जिसको आपसे भी घर बैठे भी इसका ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यदि बालिका एवं वयस्क है। तब वह इस योजना के लिए आवेदन तो हम ही कर सकती है और इसके  साथ साथ  कन्या के माता-पिता या अभिभावक इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक बनकर आवेदन कर सकते हैं।

इस योजना का आवेदन मुख्यतः दो प्रकार से किया जा सकता है जैसे कि हमने आपको पहले बताया है।

kanya sumangala yojana online apply

  • मुख्यमंत्री सुमंगला योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक https://mksy.up.gov.in वेबसाइट पर जाना होगा।

    https://upcmyogi.com/kanya-sumangala-yojana-2022/
    upcmyogi.com
  • इसके पश्चात आपके सामने आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज पर आ जाएगा।
  • अब आपके सामने  बाई तरफ दिखाई दे रहे नागरिक सेवा पोर्टल के विकल्प पर क्लिक करके आगे बढ़ना है।

    https://upcmyogi.com/kanya-sumangala-yojana-2022/
    upcmyogi.com
  • इसके बाद आपके सामने एक स्क्रीन खुल जाएगी जहां पर खुद को पंजीकृत करने के लिए एक चेक बॉक्स दिखाई देगा ।अब आपको उसको चेक करने के पश्चात Continue पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक  फार्म खुल जाएगा जिसको आपने मांगी गई जानकारी के अनुसार सही जानकारी भरकर Send SMS OTP पर पर क्लिक करना है।

    https://upcmyogi.com/kanya-sumangala-yojana-2022/
    upcmyogi.com
  • जैसे आप सेंड ऐसे में तो टीवी पर क्लिक करेंगे तब आपके मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा जिसको आपने भरकर GO क्लिक कर देना है।  इसके बाद आपको स्क्रीन पर आपके लॉगइन आईडी  दिखाई देने लगेगी।  अब आप इस आईडी को अपने पास कहीं सुरक्षित लिखकर रख ले, क्योंकि जब भी आपने अगले चरणों का ऑनलाइन आवेदन करना होगा तब आपको इसी लॉगइन आईडी की मशीन लॉगइन करके उसको अप्लाई करना होगा।

    https://upcmyogi.com/kanya-sumangala-yojana-2022/
    upcmyogi.com
  • अब आप प्राप्त हुई लॉगिन आईडी के द्वारा आप इसमें लॉगिन करके और सभी जानकारी सही-सही भर कर इस योजना का आवेदन पूर्ण कर सकते हैं और मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का लाभ ले पाएंगे।

आवेदक के रजिस्ट्रेशन के समय आवश्यक दस्तावेज

  • पते का प्रमाण (Aadhaar Card)
  • पहचान का प्रमाण ( Identity Proof)
  • वोटर आईडी कार्ड (Voter id – Scan copy(optional))
  • बैंक की पासबुक (Bank A/c No. and Passbook)
  • मृत्यु प्रमाण पत्र( यदि माता-पिता जीवित नहीं है)
  • हाल ही का बालिका का फोटो (Latest Girl Child Photo )
  • अफीडेविट सर्टिफिकेट (Affidavit Certificate)
  • बालिका के साथ परिवार की फोटो (Joint Family Photo)

kanya sumangala yojana की Offline आवेदन प्रक्रिया

  • ऐसे आवेदक जो अपना आवेदन ऑनलाइन माध्यम से नहीं कर सकते वह अपना आवेदन ऑफलाइन माध्यम से ही कर सकते हैं।
  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको एक आवेदन फार्म  भरने के साथ-साथ उसमें मांगे गए सभी दस्तावेजों को संलग्न करके संबंधित कार्यालय में जमा करना है।
  • जब आप अपने आवेदन पत्र को संबंधित कार्यालय में जमा कर देते हैं उसके पश्चात वहां के अधिकारी आपके दस्तावेजों की जांच करने के पश्चात आपके दस्तावेजों को ऑनलाइन करने के लिए जिला परिवीक्षा अधिकारी को भेज देता है।
  • अब प्राप्त किए गए आपके दस्तावेजों को जिला परिवीक्षा अधिकारीअपनी लॉगिन आईडी द्वारा आपके आवेदन फार्म को सभी दस्तावेज सहित ऑनलाइन पोर्टल पर अपलोड कर दिया जाएगा।
  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए फोरम डाउनलोड करें |

(ध्यान रहे यदि आप ऑफलाइन आवेदन कर रहे हैं तब आपको  सभी दस्तावेज स्वयं जाकर ही जमा करने होंगे यदि आप इन दस्तावेजों को किसी कोरियर या डाक द्वारा भेजते हैं तब यह आवेदन मान्य नहीं होगा)

MKSY 2022 योजना का आवेदन करते समय रखें इन बातों का ध्यान

कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत आपको रजिस्ट्रेशन करने के लिए कुछ नियम और शर्तें दी गई हैं जो नीचे लिखे  गई है।



  • सबसे पहले आपके पास एक बैध मोबाइल नंबर होना चाहिए जिसकी आवश्यकता आगे भी होगी।
  • आपके द्वारा भाई जी सभी जानकारी या आपके द्वारा दिए गए दस्तावेज में किसी प्रकार की गलती पाई जाती है तब आपका आवेदन पूरी तरह खारिज कर दिया जाएगा।
  • पंजीकरण के दौरान एक अद्वितीय मोबाइल नंबर भी दिया जाना भी आवश्यक है। जिसका उपयोग सरकार द्वारा किसी भी सूचना को देने के लिए किया जा सकता है।
  • यदि किसी बालिका का एक से अधिक आवेदन पाया जाता है तब उस स्थिति में उस बालिका से संबंधित आवेदनों को निरस्त कर दिया जाएगा।
  • आवेदक द्वारा प्रदान किए गए सभी दस्तावेजों और अन्य जानकारी के आधार पर संबंधित प्राधिकरण द्वारा बालिका के लिए सरकार की नीति, और विभाग की नीतियों की उपलब्धता, इसके साथ साथ कन्या सुमंगला योजना के नियम व शर्तों के अनुसार वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

प्रथम चरण के आवेदन हेतु दस्तावेज

  • बच्ची बालिका का लेटेस्ट फोटो
  • आवेदक और बच्ची बालिका का जॉइंट फोटो
  • प्रिसक्राइब्ड फोरमेट पर एफिडेविट
  • जन्म प्रमाण पत्र

प्रथम चरण के लिए यदि आप kanya sumangala yojana मे आवेदन करना चाहते हैं तब आपको ऊपर दिए गए सभी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है इसके साथ-साथ  बालिका का जन्म 1 अप्रैल 2019 या उसके बाद हुआ हो  और प्रथम चरण के आवेदन बालिका के जन्म से 6 महीने के दौरान ही करना होगा।

दूसरे चरण के आवेदन हेतु दस्तावेज

यदि आप इस योजना के तहत दूसरे चरण का आवेदन करना चाहते हैं तब उसमें भी कुछ इसी प्रकार के दस्तावेजों की आवश्यकता होती है लेकिन इनमें से एक  दस्तावेज अलग है जिसकी भी आपको जरूरत पड़ेगी।

  • बच्ची बालिका का लेटेस्ट फोटो
  • आवेदक और बच्ची बालिका का जॉइंट फोटो
  • प्रिसक्राइब्ड फोरमेट पर एफिडेविट
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • बालिका के कर्ण का कार्ड

यदि आप इस योजना के तहत दूसरे चरण के लिए आवेदन करते हैं बालिका का जन्म 1 अप्रैल 2018 को उसके बाद हुआ और यह आवेदन आप पालिका की 2 वर्ष की आयु से पहले ही कर सकते हैं।

तीसरे चरण के आवेदन हेतु दस्तावेज

इस योजना में दूसरे चरण के तरह तीसरे चरण में भी आपको आवेदन करना होगा  किंतु इसके साथ-साथ इसमें कुछ और अतिरिक्त दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जो हमने नीचे लिखी हुई है।

  • बच्ची बालिका का लेटेस्ट फोटो
  • आवेदक और बच्ची बालिका का जॉइंट फोटो
  • प्रिसक्राइब्ड फोरमेट पर एफिडेविट
  • पहली कक्षा का एडमिशन सर्टिफिकेट
  • बालिका का आधार कार्ड (Optional)

तीसरे चरण के आवेदन के लिए बच्चे की उम्र 3 वर्ष या उससे अधिक होनी आवश्यक है और आवेदक वर्तमान financial year के 31 जुलाई तक अपना आवेदन कर सकता है या एडमिशन के 45 दिन की समय सीमा के अंदर तीसरे चरण का आवेदन कर सकते हैं साथ ही इसमें बालिका के आधार कार्ड की आवश्यकता होती है जो ऑप्शनल है।

चतुर्थ चरण के आवेदन हेतु दस्तावेज

kanya sumangala yojana के चतुर्थ चरण में भी आपको आवेदन करना होगा  किंतु इसके साथ-साथ इसमें कुछ और अतिरिक्त दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जो हमने नीचे लिखी हुई है।

  • बच्ची बालिका का लेटेस्ट फोटो
  • आवेदक और बच्ची बालिका का जॉइंट फोटो
  • प्रिसक्राइब्ड फोरमेट पर एफिडेविट
  • छठी कक्षा का एडमिशन सर्टिफिकेट
  • बालिका का आधार कार्ड (Optional)

चतुर्थ चरण के आवेदन के लिए बच्चे की उम्र 7 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए है और आवेदक वर्तमान financial year के 31 जुलाई तक अपना आवेदन कर सकता है या एडमिशन के 45 दिन की समय सीमा के अंदर चतुर्थ चरण का आवेदन कर सकते हैं साथ ही इसमें बालिका के आधार कार्ड की आवश्यकता होती है जो ऑप्शनल है।

पाँचवे चरण के आवेदन हेतु दस्तावेज

आवेदन कर्ता को पाँचवे चरण में भी आपको आवेदन करना होगा किंतु इसके साथ-साथ इसमें कुछ और अतिरिक्त दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जो हमने नीचे लिखी हुई है।

  • बच्ची बालिका का लेटेस्ट फोटो
  • आवेदक और बच्ची बालिका का जॉइंट फोटो
  • प्रिसक्राइब्ड फोरमेट पर एफिडेविट
  • नवी कक्षा का एडमिशन सर्टिफिकेट
  • बालिका का आधार कार्ड (Optional)

पाँचवे चरण के आवेदन के लिए बच्चे की उम्र 10 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए है और आवेदक वर्तमान financial year के 30 सितंबर तक अपना आवेदन कर सकता है या एडमिशन के 45 दिन की समय सीमा के अंदर पाँचवे चरण का आवेदन कर सकते हैं साथ ही इसमें बालिका के आधार कार्ड की आवश्यकता होती है।

छटे चरण के आवेदन हेतु दस्तावेज

आवेदन कर्ता को छटे चरण में भी आपको आवेदन करना होगा किंतु इसके साथ-साथ इसमें कुछ और अतिरिक्त दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जो हमने नीचे लिखी हुई है।



  • बच्ची बालिका का लेटेस्ट फोटो
  • आवेदक और बच्ची बालिका का जॉइंट फोटो
  • प्रिसक्राइब्ड फोरमेट पर एफिडेविट
  • 10वी या 12वी कक्षा का एडमिशन सर्टिफिकेट
  • स्कूल का पहिचान पत्र
  • बालिका का आधार कार्ड

छटे चरण के आवेदन के लिए बच्चे की उम्र 12 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए है और आवेदक वर्तमान financial year के 30 सितंबर तक अपना आवेदन कर सकता है या एडमिशन की अंतिम तिथि के 45 दिन की समय सीमा के अंदर छटे चरण का आवेदन कर सकते हैं साथ ही इसमें बालिका के आधार कार्ड की आवश्यकता होती है।

सबाल जबाब :-

  • kanya sumangala yojana kab shuru hui

कन्या सुमंगला योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में 1 अप्रैल 2019 को शुरू की गई है।

  • सुमंगला योजना की अंतिम तिथि क्या है?

कन्या सुमंगला योजना में आवेदन करने की अंतिम तिथि उसी वर्ष के 31 जुलाई या फिर यदि कन्या 9th और 12th क्लास में है तब उस स्थिति में आवेदन करने की अंतिम अंतिम तिथि उसी वर्ष के 30 सितंबर होती है।

  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना कब से लागू है?

यह योजना 1 अप्रैल 2019 से उत्तरप्रदेश मे लागू है |

  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की दूसरी किस्त कब आएगी?

MKSY 2022 योजना के अंतर्गत आपको जब दूसरे चरण का आवेदन करेंगे तभी दूसरी किस्त प्राप्त होगी इसके अलावा यदि आप दूसरे चरण का आवेदन नहीं करते हैं तब आपको यह दूसरी किस्त नहीं मिल पाएगी।

1 thought on “Kanya Sumangala Yojana 2022”

Leave a Comment